शिवसेना सांसद रविंद्र गायकवाड़ ने कहा, मेरी हवाई उड़ान पर प्रतिबंध खत्म हो, माफी नहीं मांगूंगा

0
66

नई दिल्ली. गुरुवार को शिवसेना सांसद रविंद्र गायकवाड़ ने लोकसभा में एयर इंडिया में कर्मचारी के साथ पिटाई मामले पर अपना पक्ष रखा. गायकवाड़ ने एयर इंडिया से माफी मांगने से साफ इनकार करते हुए मांग की कि एयरलाइंस कंपनियां उनकी हवाई उड़ान पर लगी पाबंदी हटाएं.

उन्होंने कहा, ‘सत्य की विजय संसद में हो. अध्यक्ष जी आप हमारी कस्टोडियन हैं. मेरे लिए मां जैसी हैं. मेरे साथ अन्याय हो रहा है. एयर इंडिया ने मुझ पर झूठे आरोप लगाए हैं. अगर मेरे व्यवहार से संसद की गरिमा को ठेस पहुंची है तो मैं सदन से माफी मांगता हूं.’

उन्होंने कहा, ‘मेरे ऊपर दिल्ली पुलिस ने धारा 308 लगाया है, यानी हत्या की कोशिश का आरोप. बिना जांच किए पुलिस ने मेरे खिलाफ ऐसा क्यों किया. क्या मेरे पास हथियार थे? यही नहीं मेरा मीडिया ट्रायल क्यों हो रहा है? मेरा गुनाह क्या है?’ गायकवाड़ ने कहा कि एक जनप्रतिनिधि के साथ एयरलाइंस कंपनियों ने जो व्यवहार किया है, वह सही नहीं है.

गायकवाड़ ने अपने बयान में सिलसिलेवार तरीके से पिटाई की घटना जिक्र करते हुए एयरइंडिया पर ही आरोप लगाया. उन्होंने कहा, ‘मैं संसद की कार्यवाही में भाग लेने AI852 की उड़ान से पुणे से दिल्ली आ रहा था. मेरे पास बिजनस क्लास का टिकट था और मुझे इकॉनमी क्लास में बैठाया गया. लेकिन, इसके लिए मैंने कुछ नहीं कहा.’ उन्होंने कहा, ‘दिल्ली पहुंचने के बाद उतरते वक्त मैंने केबिन क्रू से शिकायत पुस्तिका मांगी. फिर वहां मौजूद अधिकारी ने पूछा आप कौन हैं. उसके बाद दो-तीन अधिकारी आए. मैंने सबसे पुस्तिका मांगी. 45 मिनट बाद एक अधिकारी आया, वह मुझ पर चिल्लाने लगे. फिर मुझे गुस्सा आ गया और मैंने उसे धकेल दिया. मेरे ऊपर लगे आरोप सही नहीं है. इसे तुरंत हटाया जाए और मेरे हवाई उड़ान पर पाबंदी खत्म की जाए.’

संसद में गायकवाड़ ने शिवसेना संस्थापक बाला साहाब ठाकरे को याद करते हुए कहा कि बाला साहब मेरे शिक्षक रहे हैं, विनम्रता मेरा स्वभाव है.

सांसद के बयान के बाद केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री गजपति राजू ने कहा कि कानून अपना काम करेगा. उन्होंने लोकसभा में कहा, ‘हम यात्रियों की सुरक्षा के साथ समझौता नहीं कर सकते हैं और कानून के मुताबिक कार्रवाई होगी.’

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY